दिल्ली के कंटेंनमेंट जोन में बढ़ेगी सख्ती, वीसी में सीएम को उपराज्यपाल ने दिए निर्देश - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Friday, June 12, 2020

दिल्ली के कंटेंनमेंट जोन में बढ़ेगी सख्ती, वीसी में सीएम को उपराज्यपाल ने दिए निर्देश

राजधानी में कोरोना संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच शुक्रवार को दिल्ली के उपराज्यपाल (एलजी) अनिल बैजल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कंटेंनमेंट जोन में सख्त व्यवस्था बनाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ एक बैठक की। इस बैठक में मुख्यमंत्री के अलावा मुख्य सचिव, अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह), सभी जिलों के डीएम और डीसीपी मौजूद रहे। बैठक के दौरान दिल्ली के कंटेंनमेंट जोन के प्रबंधन रणनीति की समीक्षा की गई।

जिसमें एलजी अनिल बैजल ने कंटेंनमेंट जोन मैनेजमेंट की रणनीति बनाने, फील्ड अफसरों को केंद्र की गाइडलाइन का सख्ती से पालन, कंटेंनमेंट जोन में सख्ती बढ़ाने, अति संवेदनशील आबादी के बीच हाऊस टू हाऊट सर्विलेंस को मजबूत करने के साथ ही जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। बैठक की शुरुआत में उपराज्यपाल ने कहा कि हमारा उद्देश्य कोविड-19 के फैलने की श्रृंखला को तोड़ना है, जिससे रोगियों की संख्या और मृत्युदर कम हो सके। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी से निपटने के लिए हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता बेड की क्षमता और स्वास्थ्य संसाधनों को बढ़ाना है ताकि मामलों में वृद्धि होने पर हमारी स्वास्थ्य प्रणाली प्रभावित न हो।

हाई रिस्क आबादी वाले क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दें डीएम और डीसीपी
एलजी ने सभी डीएम और डीसीपी को निर्देश दिए कि वे भारत सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुसार कंटेंनमेंट जोन के प्रभावी प्रबंधन के लिए उचित परिसीमन, सख्त परिधि नियंत्रण, सघन जन-जागरूकता अभियान के साथ-साथ हाई-रिस्क आबादी वाले क्षेत्रों पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने क्षेत्र के अधिकारियों को सलाह दी कि कोविड-19 के प्रसार की रोकथाम के लिए क्षेत्र में गतिशीलता को नियंत्रित करें, सोशल डिस्टेंसिंग के उपाय व स्वच्छता सुनिश्चित करें, साथ ही क्वारेंटाइन और सम्पर्क व स्वास्थ्य संबंधी उपायों के बारे में जनता को जागरुक करें।

77.8 प्रतिशत कोविड मरीज होम आइसोलेशन में

बैठक में मंडलायुक्त ने दिल्ली में कोविड-19 की वर्तमान स्थिति पर एक प्रस्तुति दी जिसमें यह बताया गया कि 11 जून तक दिल्ली में कोरोना के कुल 34,867 मामले हैं, जिनमें से 12,731 मरीज स्वस्थ हुए हैं। दिल्ली में एक्टिव मामलों के कुल 77.8 प्रतिशत कोविड मरीज होम आइसोलेशन में हैं। वर्तमान में दिल्ली में 242 एक्टिव कंटेंनमेंट जोन हैं। इस दौरान उपराज्यपाल को कोविड-19 के क्लस्टर विश्लेषण और जिले वार रुझान से भी अवगत कराया गया।

होम आइसोलेशन मरीजों को समय पर अस्पताल में शिफ्ट किया जाए

एलजी ने सभी जिला अधिकारियों और पुलिस उपायुक्तों को निर्देश दिए कि आरडब्ल्यूए, और स्वयंसेवकों के रचनात्मक सहयोग से कंटेंनमेंट जोन के प्रबंधन और निवारक उपायों को लागू करें। उन्होंने कहा कि दिल्ली में कोविड-19 मरीजों की एक बड़ी संख्या होम आइसोलेशन में है। इन मरीजों की उचित चिकित्सा देखभाल सुनिश्चित करने के लिए इनका टेस्टिंग, आवश्यकता पडऩे पर इनकी कोविड केयर सेंटर व अस्पताल में शिफ्टिंग को समय पर किया जाए। जिससे आवश्यकता के अनुसार उचित स्वास्थ्य देखभाल सुनिश्चित की जा सके। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को यह भी निर्देश दिए कि वरिष्ठ नागरिकों व बीमार व्यक्तियों की विशेष रूप से निगरानी की जाए। उपराज्यपाल ने एक बार फिर दोहराया कि अस्पतालों द्वारा एलईडी बोर्ड पर बेड की उपलब्धता, शुल्क इत्यादि स्पष्टत: दर्शाया जाए।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2XWUy6f
via IFTTT

No comments:

Post a Comment