द्रविड़ ने कहा- क्रिकेट को सामान्य स्थिति में लाने के लिए कोरोना की वैक्सीन और आत्मविश्वास जरूरी - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Wednesday, June 10, 2020

द्रविड़ ने कहा- क्रिकेट को सामान्य स्थिति में लाने के लिए कोरोना की वैक्सीन और आत्मविश्वास जरूरी

कोरोनावायरस के बीच क्रिकेट करीब तीन महीने बाद पटरी पर लौट रहा है। ऐसे में पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा कि इस बार क्रिकेट काफी अलग तरह का होने वाला है। यह खेल वैसा नहीं रहेगा, जिसके फैन्स आदी हैं। क्रिकेट को सामान्य स्थिति में लौटने के लिए वैक्सीन जरूरी है।

पिछला अंतरराष्ट्रीय मैच 13 मार्च को सिडनी में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था। इसके बाद अब इंग्लैंड में 8 जुलाई से वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट से इंटरनेशनल क्रिकेट की वापसी हो रही है।

वायरस काफी लंबे समय तक चलेगा

द्रविड़ ने सोनी टेन पिट शॉप के फेसबुक पेज पर कहा, ‘‘जब तक वैक्सीन नहीं आ जाती और हमें पूरी दुनिया को लेकर आत्मविश्सास नहीं हो जाता है। मैं कोई मेडिकल प्रोफेशनल नहीं हूं, लेकिन जो मैंने अब तक सुना है कि यह वायरस लंबे समय तक जाने वाला नहीं है। हालांकि, एक समय ऐसा भी आएगा, जब हम इस वायरस से अच्छी तरह निपट सकेंगे। तब तक क्रिकेट काफी अलग होने वाला है।’’

क्रिकेट कई मायनों में जीवन की परछाई
पूर्व भारतीय कप्तान ने जिस तरह से खेल को खेला जाता है। जैसे- जश्न मनाने से लेकर ड्रेसिंग रूम के तौर तरीकों तक, सबकुछ प्रभावित होने वाला है। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि क्रिकेट कई मायमों में जीवन की परछाई ही है, इसलिए इस पर प्रभाव पड़ना लाजमी है।’’

वेस्टइंडीज-इंग्लैंड टेस्ट रोचक होने वाला है
इंग्लैंड-वेस्टइंडीज सीरीज को लेकर द्रविड़ ने कहा, ‘‘यह बहुत अच्छा प्रैक्टिकल होने वाला है। यह देखना भी दिलचस्प होगा कि एक महीने के समय में क्या होता है। उम्मीद है कि यह आगे बढ़े और सभी लोग सुरक्षा के साथ खेल सकें। यह हमें एक उदाहरण देगी कि चीजें कैसे हो सकती हैं।’’

गेंद को चमकाने में पसीना काम नहीं करेगा, तब क्या होगा
गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल पर लगे प्रतिबंध पर द्रविड़ ने कहा कि इसके विकल्प के तौर पर अतिरिक्त पदार्थ की अनुमति मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘कई लोगों का मानना है कि इंग्लैंड में अगर आप पसीने का इस्तेमाल करते हैं तो यह वही काम करेगा जो लार करता है। इसलिए गेंद को चमकाने से आपको रोका नहीं गया है। मेडिकल संबंधी लोगों ने कहा है कि वायरस पसीने के जरिए नहीं पहुंचेगा, लेकिन मैं इस बात को लेकर निश्चिंत नहीं हूं कि यदि पसीना काम नहीं करता है तो क्या वे अतिरिक्त पदार्थ के इस्तेमाल की मंजूरी देंगे या नहीं।’’

स्मिथ और वॉर्नर भारत के लिए चुनौती रहेंगे
भारतीय टीम को साल के आखिर में ऑस्ट्रेलिया दौरे पर 4 टेस्ट, 3 टी-20 और 3 वनडे की सीरीज खेलना है। इस पर द्रविड़ ने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलिया टीम में स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर एक नींव की तरह हैं। वे भारतीय टीम के लिए कड़ी चुनौती हो सकते हैं। इस सीरीज में दोनों खिलाड़ी अपनी रैंकिंग में भी सुधार कर सकते हैं।’’

द्रविड़ ने 244 वनडे में 10889 रन बनाए
द्रविड़ ने 164 टेस्ट में 42.51 की स्ट्राइक रेट से 13288 और 244 वनडे में 71.24 की स्ट्राइक रेट से 10889 रन बनाए हैं। उनके नाम एकमात्र इंटरनेशनल टी-20 में 147.62 की स्ट्राइक रेट से 31 रन हैं। आईपीएल के 89 मैच द्रविड़ ने 2174 रन बनाए हैं। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 115.52 का रहा था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ ने कहा- एक समय ऐसा भी आएगा, जब हम इस कोरोनावायरस से अच्छी तरह निपट सकेंगे। -फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2MOpyyU
via IFTTT

No comments:

Post a Comment