राजधानी में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए एनजीओ, एनसीसी केडेट्स व दूसरे वॉलंटियर्स की ली जाएगी मदद - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Saturday, June 20, 2020

राजधानी में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए एनजीओ, एनसीसी केडेट्स व दूसरे वॉलंटियर्स की ली जाएगी मदद

राजधानी में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामले के साथ अब मैन पॉवर की बढ़ती जरूरत को पूरा करने के लिए एनजीओ, एनसीसी केडेट्स समेत अन्य वॉलंटियर की मदद ली जएगी। इसके लिए दिल्ली सरकार वॉलंटियर सेवा देने वाले लोगों के रजिस्ट्रेशन के लिए एक वेब पोर्टल और डेशबोर्ड डेवलप करेंगी। इस पर रजिस्ट्रेशन करने वालों को संबंधित जिला के डीएम अलग-अलग सेवाएं में लगाएंगे। यह लोग डिस्ट्रिक्ट सर्विलांस ऑफिसर के नेतृत्व में काम करेंगे। इनको ट्रेनिंग उपलब्ध कराने का काम जिला प्रशासन का होगा।

कोविड-19 के खिलाफ लड़ाई में अपनी सेवा उपलब्ध कराने वाले सभी प्रतिभागियों को सरकार की तरफ से सर्टिफिकेट जारी किए जाएंगे। इस संबंध में मुख्य सचिव विजय देव ने आदेश जारी किए। वहीं, शुक्रवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कोरोना से साथ में लड़ाई लड़ने के लिए के लिए एनजीओ और व्यक्तिगत लोगों को रजिस्ट्रेशन कर जुड़ने की अपील की।

डेस बोर्ड पर करना होगा रजिस्ट्रेशन
वॉलंटियर सेवा से जोड़ने के लिए आईटी विभाग के डिप्टी कमिश्नर की निगरानी में एनआईसी- दिल्ली वेब पोर्टल और डेशबोर्ड डेवलप करेगा। इस पर इच्छुक एनजीओ, सिविल सोसायटी ऑर्गनाइजेशन (सीएसओ), एनसीसी व एनएसएस कैडेट्स, स्काउट और व्यक्तिगत लोग भी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा।
यहां ली जाएगी सेवाएं
रजिस्ट्रेशन करने वाले एनजीओ और व्यक्तिगत लोगों की सेवा कोरोना संदिग्ध का सर्वे करने, कोविड केयर सेंटर/सरकारी अस्पताल में किसी प्रकार की सहायता, वरिष्ठ नागरिकों की सहायता, हेल्पलाइन में सहायता देने के लिए ली जाएगी।

यह है सेवा देने के लिए शर्त
रजिस्ट्रेशन करने के लिए 18 वर्ष से 55 वर्ष के बीच उम्र होने की शर्त रखी गई है। साथ ही स्वास्थ्य बेहतर होने के साथ ही उनमें कोई लक्षण नहीं होना चाहिए।
संक्रमित भी ले सकेंगे भाग
पोर्टल पर कोरोना संक्रमण से ठीक होने वाले व्यक्ति भी अपनी सेवा देने के लिए रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। ऐसे लोगों का उपयोग जिला प्रशासन आत्मविश्वास बढ़ाने के उपाय के लिए कर सकेंगे। संदिग्ध व्यक्तियों और आइसोलेशन में रखे मरीज के प्रबंधन और निगरानी की रिपोर्ट जिला प्रशासन प्रतिदिन लेगा। इसके लिए एनजीओ, एनसीसी कैडेट्स समेत अन्य को एक फार्मेट दिया जाएगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2AU9g5j
via IFTTT

No comments:

Post a Comment