बच्ची के सिर में फंसा कुकर, डॉक्टरों ने 45 मिनट में निकाला; बसों की इनकम पर ब्रेक, पब्लिक ट्रांसपोर्ट के बजाए लोग अपने वाहन से सफर करना मान रहे सेफ - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Saturday, June 13, 2020

बच्ची के सिर में फंसा कुकर, डॉक्टरों ने 45 मिनट में निकाला; बसों की इनकम पर ब्रेक, पब्लिक ट्रांसपोर्ट के बजाए लोग अपने वाहन से सफर करना मान रहे सेफ

फोटो गुजरात के भावनगर की है। यहांखेल-खेल में एक साल की प्रियांशी के सिर में कुकर फंस गया। कुकर निकालने में असफल रहने पर परिजन बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंचे। वहां बाल रोग और ऑर्थोपेडिक विभाग के डॉक्टरों की टीम ने 45 मिनट की कवायद के बाद कुकर को काट कर प्रियांशी के सिर से निकालने में सफलता प्राप्त की।

एक सवारी लेकर दौड़ रहीसीटीयू की बसें

फोटो चंडीगढ़ की सीटीयू बस की है। कोरोना के खौफ के चलते लोग सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। ऐसे में वह पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन के बजाए अपने व्हीकल्स सेसफर करना ज्यादा सेफ मान रहे हैं। चंडीगढ़, पंचकूला और मोहाली के रूट पर सीटीयू की बसें तो चलाई जा रही हैं, लेकिन इनमें से ज्यादातर रूट पर चल रही बसों में इक्का-दुक्का सवारियां ही होती हैं।

प्री मानसून: अपने रेवड़ के साथ घर लौटने लगे रेबारी

फोटो राजस्थान के सराड़ी की है। प्री-मानसून की बारिश होते ही रेबारी जाति के लोग अपने रेवड़ के साथघर लौटने लगे हैं। दीपावली के बाद ये लोग अपनी रेवड को लेकर मालवा, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, गुजरात और अन्य राज्यों में जाते हैं। आषाढ़ महीने में वापस राजस्थान आ जाते हैं। शनिवार को सराड़ी गांव से ऊंटों का रेवड़ गुजरा। रेबारी जाति के लोग अपने परिवार के साथ पाली, जोधपुर, बाड़मेर, बीकानेर और जैसलमेर जिलों की तरफ जा रहे थे।

रेत का अवैध उत्खनन कर रहे लोग

फोटो मध्यप्रदेश के शिवपुरी की है। पचावली स्टॉप डैम से पानी छोड़ने के बाद भीलोग जान जोखिम में डालकर रेत का अवैध उत्खनन कर रहे हैं। ट्रैक्टर-ट्रॉली में रेत भरकर लाते समय चढ़ाई पर ट्रैक्टर के अगले पहिए उठ जाते हैं। ऐसे मेंसंतुलन बनाने के लिएदो लोगटैक्टर के बोनट पर खड़े होते हैं ताकि टैक्टर का संतुलन बना रहे।

दाना पानी के लिए बड़ी संख्या में आते हैं पक्षी

फोटो राजस्थान के नागौर जिले के रोल गांव की है। यहां के राजकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में शनिवार को दाना-पानी के लिए मोरनियांपहुंचीं। सीएचसी प्रभारी अधिकारी डॉ.राजेन्द्र सिंह कालवी ने गर्मी के मौसम को लेकर अस्पताल परिसर में पक्षियों के काफी संख्या में परिंडे व चुग्गा पात्र लगाए हैं। ऐसे में यहां इन दिनों शांत व स्वच्छ वातावरण को लेकर पक्षी पानी पीने व दाना चुगने के लिए आते हैं।


उफ ये गर्मी...सीप नदी से राहत

फोटो मध्यप्रदेश के श्योपुर की है। जिला म़ुख्यालय से लगभग 15 किलोमीटर दूर ग्राम साेईंकलां और मेवाड़ा के बीच सीप नदी है। गर्मी से राहत के लिए नदी में कुछ भैसें पड़ींथीं। भैसों की पीठ पर संरक्षित प्रजाति के कुछ कछुए आराम फरमाते नजर आए। वाइल्ड लाइफएक्सपर्ट सीताराम टैगोर नेइसेअपने कैमरे में कैद किया।

दूल्हा औरपरिजन मास्क पहन कर निभा रहे रस्में

फोटो राजस्थान के कोटा की है।शनिवार को शहर केटिपटा साई मंदिर के पास एक दूल्हे की निकासी निकली। घाेड़ी पर बैठा दूल्हा व परिवार की महिलाएंसंक्रमण से बचाव के लिए मास्क लगाएनजर आईं। सजी संवरी महिलाओें ने मास्क पहन कर ही सभी रस्में अदा कीं। बाद में दूल्हा व परिवार की महिलाएं लक्ष्मीनाथ मंदिर में देवता धोकने पहुंची।

मौसम: आधे घंटे की बारिश के बाद निकली धूप

फोटो चंडीगढ़ की है।यहां चार दिन से पड़ रही भीषण गर्मी के बाद शनिवार सुबह 11 बजे एकाएक बादल छागए। तेज हवाओं के साथ कुछ देर बारिश हुई। लगा दिनभर बारिश होगी, लेकिन आधे घंटे के बाद आसमान साफ होना शुरू हो गया और धूप निकली। नमी की मात्रा बढ़ने से उमस ने लोगों को परेशान किया।

एयर वॉल्व फटा तोधमाके से जा सकती हैकिसी की भी जान

फोटो मध्यप्रदेश के शिवपुरी की है। यहांसिंध जलावर्धन की मुख्य पाइप लाइन में जगह-जगह एयर वॉल्व लगाए गए हैं। लेकिन लोग इन एयर वॉल्व से पानी भर रहे हैं। शहर की कठमई बस्ती में लोगों ने एयर वॉल्व का स्ट्रेक्चर ही तोड़ डाला। पानी का प्रेशर ऊपर जाने से रोकने के लिए वॉल्वके ऊपर पत्थर रख दिया।वॉल्वपर जैसे ही फव्वारे के साथ पानी छूटता है, बच्चों की भीड़ जमा हो जाती है।यदि एयर वॉल्व फटा तो तेज धमाके के साथ किसी की भी जान जा सकती है।

आरोपियों के संपर्क में आने से पहले भीकई पुलिसकर्मी हुए हैं संक्रमित

फोटो हरियाणा के रोहतक की है। जिले में चार आरोपी और तीन पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित मिल चुके हैं, इसके बावजूद पुलिसएहतियात नहीं बरत रही। शनिवार को पुलिस सामान्य अस्पताल में दो आरोपियों का कोरोना टेस्ट करवाने पहुंची,पुलिस वालों के हाथ में न तो ग्लब्स थे और न ही उन्होंने आरोपियों को हथकड़ी पहनाई थी। यदि आरोपीपॉजिटिव मिले तो हाथों में हाथ पकड़कर टेस्ट करवाने आए पुलिस कर्मचारी खतरे में आ सकते हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Cooker stuck in baby's head, doctors pulled out in 45 minutes; Brakes on the income of buses, instead of public transport, people are considering traveling with their vehicles


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3cYfHRN
via IFTTT

No comments:

Post a Comment