फरीदाबाद में बिगड़े हालात, तीन मरीजों की हुई मौत, 106 नए पाॅजिटिव मामले भी आए - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Sunday, June 7, 2020

फरीदाबाद में बिगड़े हालात, तीन मरीजों की हुई मौत, 106 नए पाॅजिटिव मामले भी आए

औद्योगिक नगरी में कोरोना संक्रमण से दिनोंदिन हालात बिगड़ते जा रहे हैं। कोरोना से तीन और मरीजों की मौत हो गई है। मरने वालों में दो पुरुष और एक महिला शामिल है। जिले में अभी तक कोरोना से 14 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 24 घंटे में 106 नए मामले भी आए हैं। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक अब जिले में संक्रमितों का आंकड़ा 771 तक पहुंच गया है। हालात ये हैं कि स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन की सभी तैयारियों व रोकथाम के उपायों पर कोरोना भारी पड़ रहा है।

हैरानी की बात यह है कि कोरोना संक्रमण शहरी क्षेत्र से गांवों में भी फैलने लगा है। इसका बढऩे का प्रमुख कारण लोगों का एक-दूसरे के संपर्क में आना बताया जा रहा है। क्योंकि लॉकडाउन में मिली छूट के बाद लोगों ने बेधड़क मार्केट में निकलना शुरू कर दिया। लोग न मास्क लगाने को तैयार हैं और न सोशल डिस्टेंसिंग मेनटेन करने को।

इन इलाकों से मिले 106 कोरोना संक्रमित
डिप्टी सीएमओ डॉ. रामभगत के अनुसार रविवार को 106 नए केस सामने आए हैं। ये संक्रमित मरीज ओल्ड फरीदाबाद, बल्लभगढ़, एनआईटी, डबुआ कॉलोनी, तिगांव, पन्हेड़ा खुर्द, एसी नगर, भारत कॉलोनी और छांयसा के रहने वाले हैं। ये वे लोग हैं जिनके परिवार के लोग पहले संक्रमित हो चुके हैं।

1 महिला समेत दो पुरुष की मौत

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार संक्रमण से मरने वालों में 1 महिला और 2 पुरुष शामिल हैं। ओल्ड फरीदाबाद के बसेलवा कॉलोनी निवासी 52 वर्षीय व्यक्ति, सेक्टर 28 निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग और एसजीएम नगर निवासी 65 वर्षीय महिला शामिल है।

कोरंटाइन का पालन न करने से बढ़ रहे केस
स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन का कहना है कि तेजी से कोरोना संक्रमण के बढ़ने का प्रमुख कारण कोरंटाइन के नियमों का पालन न करना और सुरक्षा उपायों को न अपनाना है। प्रशासन का कहना है कि लॉकडाउन चार में जब थोड़ी छूट मिली तो लोगों का एक साथ बाहर निकलना शुरू हो गया। इससे तेजी से संक्रमण बढ़ा है। जिन संक्रमित परिवारों को कोरंटाइन किया जा रहा है वह भी इसका ठीक से पालन नहीं कर रहे हैं।

यहीं नहीं लोग न मास्क लगा रहे और न सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं। उधर पता चला है कि 10 लोग ऐसे पाए गए जो कोरोना टेस्ट कराने के दौरान अपना गलत मोबाइल नंबर व पता देकर चले गए। अब रिपोर्ट पाजिटिव आने के बाद उनकी कोई जानकारी नहीं मिल रही है

कोरोना संक्रमित व्यक्ति की कब-कब हुई मौत
पहली मौत 28 अप्रैल को सेक्टर 88 निवासी 69 वर्षीय बुजुर्ग की हुई थी। जबकि दूसरी मौत 4 मई को ओल्ड फरीदाबाद के बाढ़ मोहल्ला निवासी 55 वर्षीय सिक्योरिटी गार्ड की हुई थी। तीसरी मौत 9 मई को सेक्टर 28 निवासी 72 वर्षीय बुजुर्ग महिला की हुई थी। चौथी मौत 11 मई को सेक्टर 18 निवासी 65 वर्षीय बुजुर्ग की हुई थी। पांचवीं मौत 14 मई को बल्लभगढ़ शिव शारदा कॉलोनी निवासी 17 वर्षीय किशोर की हुई थी।

छठी मौत 17 मई को नहरपार भारत कॉलोनी कर्नल विहार निवासी 45 वर्षीय व्यक्ति की हुई थी। सातवी मौत 26 मई को इंद्रिरा कॉलोनी निवासी 53 साल की महिला की हुई थी। आठवीं मौत 29 मई को एनआईटी दो निवासी 62 वर्षीय बुजुर्ग की हुई थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
फरीदाबाद. कोविड अस्पताल में एडमिट काेराेना वायरस के पेशेंट।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3f4IIMX
via IFTTT

No comments:

Post a Comment