रोहिणी में शूटआउट के बाद कुख्यात चिचड़ करालिया गैंग के सात बदमाश गिरफ्तार - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Monday, May 25, 2020

रोहिणी में शूटआउट के बाद कुख्यात चिचड़ करालिया गैंग के सात बदमाश गिरफ्तार

रोहिणी डिस्ट्रिक पुलिस ने शूटआउट के बाद सात बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। इनके पकड़े जाने से हत्या के दो, लूट के छह और रंगदारी का मामला सुलझाने का दावा किया गया है। आरोपियों की पहचान कराला निवासी मोहित उर्फ चिचड़, रामा विहार निवासी अजय, मोहत, अक्षय, मनीष, अभिषेक व अंश मल्होत्रा के तौर पर हुई। पुलिस ने इनके पास से चार पिस्टल और तेरह कारतूस बरामद किए हैं। साथ ही लूटी गई कार, बाइक व स्कूटी भी इनके पास से मिली है। डीसीपी पीके मिश्रा ने बताया इन बदमाशों को पकड़े जाते समय दोनों ओर से फायरिंग भी हुई।

पुलिस द्वारा की गई जवाबी फायरिंग में मोहित उर्फ चिचड़ गोली लगने से जख्मी हो गया। 14 अप्रैल को भगत सिंह कॉलोनी करोला में चंद्र शेखर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। मामले में मोहित उर्फ चिचड़ की शक के दायरे में था। वो मुंडका इलाके में 2017 में भी चंद्रशेखर की हत्या का प्रयास कर चुका था। 21 मई को ही इस गैंग ने रामा विहार में फायरिंग कर घर में लूटपाट की थी।

वहीं, 22 मई को ही मोहित चिचड़ ने ही कंझावला इलाके में एक कारोबारी से पचास लाख की रंगदारी की मांग की थी। एक सूचना पर पुलिस ने कराला गांव की ओर आने वाली सड़क पर इन बदमाशों को देख उन्हें सरेंडर करने की चेतावनी दी। लेकिन उन्होंने फायरिंग कर दी। जवाब में पुलिस ने भी गोलियां चलायीं, जिस कारण मोहित उर्फ चिचड़ के पैर में गोली लग गई। एसीपी और सब इंस्पेक्टर के बुलेट प्रूफ जैकेट में भी गोली लगी, जिनकी जान बाल बाल बच गयी।

अपराध जगत में मशहूर होना चाहता था चिचड़

21 साल का मोहित उर्फ चिचड़ कराला का रहने वाला है। वह हत्या, हत्या की कोशिश, लूटपाट जैसे पांच मामले में शामिल रहा है। इस साल जनवरी में ही वह जेल से जमानत पर छूटकर बाहर आया था। वह कम समय में अपराध जगत में अपना नाम मशहूर करना चाहता था। मोहित उर्फ गोलू चिचड़ को बचपन से ही जानता है। वह भी कराला इलाके का रहने वाला है और हत्या, लूटपाट, जैसे कई संगीन मामले में शामिल रह चुका है।

वहीं, रामा विहार इलाके के रहने वाले अजय और अभिषेक का पुराना आपराधिक रिकॉर्ड है। बेगमपुर निवासी मनीष ने ही मोहित उर्फ चिचड़ को एक मोबाइल सिम मुहैया करायी थी, जिस पर कॉल कर कारोबारी से पचास लाख की रंगदारी मांगी गई थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Seven crooks of the infamous Chicha Karelia gang arrested after a shootout in Rohini


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2TG7RFL
via IFTTT

No comments:

Post a Comment