कोरोना रोकने के लिए कंटेनमेंट जोन की सख्त निगरानी हो: उपराज्यपाल - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Tuesday, May 26, 2020

कोरोना रोकने के लिए कंटेनमेंट जोन की सख्त निगरानी हो: उपराज्यपाल

उपराज्यपाल अनिल बैजल ने मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, मुख्य सचिव, अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह), दिल्ली पुलिस आयुक्त, प्रधान सचिव एवं सचिव (स्वास्थ्य) एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा की। बैठक की शुरुआत में स्वास्थ्य सचिव ने दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति पर एक विश्लेषण प्रस्तुत किया। उपराज्यपाल ने स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिया कि वह मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर के क्षमता निर्माण की बारीकी से समीक्षा करें और किसी भी अड़चन को तुरंत दूर करें। उन्होंने यह भी सलाह दी कि भविष्य के तैयारियों के लिए विशेषज्ञों के अनुसार पिछले 10-15 दिनों के कोविड के आंकड़ों का विश्लेषण आवश्यक है।

उपराज्यपाल ने कहा कि कंटेनमेंट जोन की कठोर निगरानी हो ताकि कोविड संक्रमण को प्रभावी रूप से रोका जा सके । उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया कि होम कोरन्टाइन/डिस्चार्ज आदि के बारे में एमओएचओएफडब्ल्यू, भारत सरकार के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करें और विश्वास बहाली के लिए आइईसी गतिविधियों के माध्यम से लोगों को नियमित रूप से जागरूक करें। उन्होंने कोविड-19 की रोकथाम के लिए आईईसी और निगरानी उपायों पर जोर देने को कहा। बैठक के दौरान यह निर्णय लिया गया कि अस्पतालों में कोविड बेड की उपलब्धता के रियल टाइम जानकारी लोगों को दी जाएगी। उपराज्यपाल ने लोगों से आग्रह किया कि संक्रमितों के सम्पर्क से बचने और खुद को कोविड-19 से सुरक्षित रखने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप का उपयोग करें।
स्वास्थ्य विभाग ने हाल के कदमों की दी जानकारी
स्वास्थ्य सचिव ने कोविड-19 की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग के हाल ही में उठाए गए कदमों के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा कि प्राइवेट अस्पतालों जिनमें 50 से अधिक बेड है उन अस्पतालों को 25प्रतिशत अधिक बेड बढ़ाने को कहा गया है। साथ ही इन निजी अस्पतालों में कोविड के लिए 20 प्रतिशत बेड आरक्षित किए गए है। इसके अलावा, होम आइसोलेटेड कोविड पॉजिटिव रोगियों की दैनिक स्वास्थ्य निगरानी और कोविड केयर सेंटर में आइसोलेशन बेड को बढ़ाना आदि शामिल है।
30 हजार पीपीई और 3.5 एन95 का मास्क का दिया ऑर्डर

इसके अतिरिक्त उपराज्यपाल को बताया गया कि दिल्ली में 19 कोविड केयर सेंटर 5716 की क्षमता के साथ कार्य कर रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग ने 30,000 पीपीई किट (50,000 पीपीई स्टाक में मौजूद) 3.5 लाख एन95 मास्क, 28 वेंटीलेटर और 435 ऑक्सीजन कमेंट्रेटर की आपूर्ति के आदेश दिए हैं।
सरकार खरीद रही वेंटिलेटर
स्वास्थ्य सचिव ने दिल्ली में कोविड-19 की स्थिति पर एक विश्लेषण प्रस्तुत किया। इसके साथ ही कोविड लॉजिस्टिक्स के बारे में यह बताया गया कि चिकित्सा संबंधी आवश्यक उपकरणों की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित की गई है और अधिक से अधिक वेंटिलेटर खरीदे जा रहे हैं। दिल्ली में गंभीर मरीजों के लिए कोविड अस्पतालों की स्थिति और बेड की उपलब्धता के बारे में भी जानकारी दी गई। वर्तमान में 4462 बेड, 429 आईसीयू बेड, 343 वेंटिलेटर और 2632 ऑक्सीजन समर्थित बेड विभिन्न कोविड अस्पतालों में उपलब्ध हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2X3p0Lp
via IFTTT

No comments:

Post a Comment