कैट्स एंबुलेंस कंट्रोल रूम बना ‘कोरोना कंटेनमेंट’, आधे से ज्यादा कर्मचारी पॉजिटिव, बिल्डिंग में जाने से किया इनकार - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Monday, May 11, 2020

कैट्स एंबुलेंस कंट्रोल रूम बना ‘कोरोना कंटेनमेंट’, आधे से ज्यादा कर्मचारी पॉजिटिव, बिल्डिंग में जाने से किया इनकार

कैट्स कंट्रोल रूम ’कोरोना कंटेनमेंट’ बन गया है। बिल्डिंग में काम करने वाले आधे से ज्यादा कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं। कई सैंपल की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। बिल्डिंग में लगातार आ रहे कोरोना पॉजिटिव कर्मचारियों के कारण कंट्रोल रूम के ऑपरेशन में परेशानी आ रही थी। इसे दूर करने के लिए दिल्ली सरकार ने अन्य विभागों में काम करने वाले 99 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई। इसमें सीनियर-जूनियर असिस्टेंट और सेक्शन ऑफिसर शामिल हैं। मगर उन्होंने ड्यूटी से इनकार कर दिया है। वरिष्ठ अधिकारियों ने उसे कंट्रोल रूम दूसरी जगह शिफ्ट करने का आदेश दिया है। कंट्रोल रूम में 52 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। 35-40 की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। कर्मचारी के पॉजिटिव आने पर उसे क्वारंटीन किया जा रहा है। अब यहां कर्मचारियों की कमी हो गई है।

सरकार ने दिया कंट्रोल रूम बदलने का आदेश
कर्मचारियों की बात सुन अधिकारियों ने कंट्रोल रूम की जगह बदलने का आदेश दिया है। कर्मचारी यूनियन के महासचिव उमेश बत्रा ने बताया कि कंट्रोल रूम में लगातार संक्रमित होने के मामले आने के बावजूद सर्विसेज विभाग ने दूसरे कर्मचारियों का नियुक्त कर दिया। सोमवार को कर्मचारियों ने ज्वाइन कर लिया। हमने सीएस से कंट्रोल रूम दूसरी जगह शिफ्ट करने की मांग की। उन्होंने कंट्रोल रूम दूसरी जगह शिफ्ट करने के निर्देश दिए है। कैट्स कंट्रोल रूम और एंबुलेंस के कर्मचारियों के कोरोना पॉजिटिव आने की वजह से कैट्स के पास कर्मचारियों की कमी है। इसके कारण सोमवार को दिल्ली में 134 एंबुलेंस ही चलीं, जबकि इसकी तादाद 300 है। इसमें बाइक एंबुलेंस भी शामिल हैं।

डीटीसी ड्राइवरों में भी कोरोना इंफेक्शन का खौफ
कर्मचारियों की कमी दूर करने के लिए सरकार ने डीटीसी बस के 350 ड्राइवरों को कैट्स एंबुलेंस चलाने के लिए शिफ्ट किया है। आदेश 4 मई को दिया था, मगर अभी भी सभी ड्राइवरों ने कैट्स एंबुलेंस में ज्वाइन नहीं की। दिल्ली परिवहन मजदूर संघ के महासचिव कैलाश चंद मलिक का कहना है कि सरकार का आदेश है, इसलिए सभी ड्राइवरों को ज्वाइन करना पड़ेगा।

ऊर्जा मंत्रालय में भी आया केस, श्रम शक्ति भवन बंद
लुटियंस जोन में श्रम शक्ति भवन की छठी मंजिल स्थित ऊर्जा मंत्रालय के एक कर्मचारी के कोरोना वायरस से संक्रमित पाए जाने बाद भवन में कर्मचारियों की आवाजाही रोक दी गई है। इमारत में श्रम मंत्रालय का कार्यालय भी है। कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा गया है। ऊर्जा मंत्रालय का कार्यालय छठी मंजिल पर है, जिसे सील किया गया है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Cats ambulance control room made 'corona containment', more than half of employees positive, refused to go to the building


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3ckdnoG
via IFTTT

No comments:

Post a Comment