कोरोना संक्रमण के डर से नागरिक अस्पताल व ईएसआईसी अस्पताल में टाली जा चुकी हैं 350 सर्जरी - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Thursday, May 28, 2020

कोरोना संक्रमण के डर से नागरिक अस्पताल व ईएसआईसी अस्पताल में टाली जा चुकी हैं 350 सर्जरी

कोरोना वायरस का असर केवल उद्योग और व्यापार पर ही नहीं बल्कि चिकित्सा क्षेत्र पर भी पड़ा है। संक्रमण फैलने के डर से बीते दो महीने में नागरिक अस्पताल में एक भी सर्जरी नहीं की गई है। लॉकडाउन की शुरूआत से लेकर अब तक सवा दो महीने में होने वाली करीब 150 सर्जरी टाली जा चुकी हैं। भविष्य में सर्जरी कब से शुरू होंगी, इसका भी अभी तक चिकित्सकों को कोई अंदाजा नहीं है।

ऐसे में जिन मरीजों ने मार्च से मई के बीच में सर्जरी की तारीख ले रखी थी, उन्हें अब नई तारीख मिलने का इंतजार है। यही नहीं ईएसआईसी के सेक्टर-9ए व मानेसर अस्पताल का भी यही हाल है। यहां भी करीब 200 से अधिक सर्जरी टाली जा चुकी हैं। वहीं अब पेशेंट को एक महीने बाद आने की बात कहकर भेजा जा रहा है। लेकिन जिस तरह से वायरस का संक्रमण बढ़ रहा है, अभी हालात सामान्य होना मुश्किल है।


कोरोना की रोकथाम के लिए प्रदेश स्वास्थ्य विभाग ने कई आदेश जारी किए थे। इनमें एक खुले में ओपीडी का संचालन करना शामिल था, तो वहीं दूसरा सर्जरी पर अस्थाई रोक के निर्देश थे। सेक्टर-10 नागरिक अस्पताल और सेक्टर-31 पॉलीक्लिनिक प्रबंधन ने इन आदेशों के बाद मार्च अंत से अस्पताल में मरीजों की भीड़ को कम करने के लिए फ्लू ओपीडी को छोड़ अन्य सभी रोगों की ओपीडी बंद कर दी थी।

फ्लू ओपीडी भी अस्पताल में खुले मैदान में लग रही हैं। इसके अलावा नेत्र रेाग, दंत रोग, हड्डी रोग ओपीडी और सर्जरी ओपीडी अभी पूरी तरह बंद है। हालांकि गायनी ओपीडी और बाल रोग ओपीडी को अभी चालू कर दिया गया है। अन्य रोगों से जुड़े नए मरीजों की जांच न हो पाने के कारण उन्हें सर्जरी की तारीख नहीं मिल पा रही है।

आदेश मिलने के बाद सर्जरी दोबारा शुरू की जाएंगी
मुख्यालय के आदेश के बाद सर्जरी को अस्थाई तौर पर बंद किया गया है। सेक्टर-10 नागरिक अस्पताल में केवल गर्भवतियों के सिजेरियन ऑपरेशन किए जा रहे हैं। नए आदेश मिलने के बाद ही सर्जरी दोबारा शुरू की जाएंगी। -डॉ. दीपा सिंधू, पीएमओ, नागरिक अस्पताल, गुड़गांव



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2TLS748
via IFTTT

No comments:

Post a Comment