लॉकडाउन का पालन कराने के साथ ही दिल्ली पुलिस के जवान पानी वाले बन रहे, कहीं राशन बांट रहे तो तीमारदार बनकर भी कर रहे लोगों की सेवा - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Sunday, April 19, 2020

लॉकडाउन का पालन कराने के साथ ही दिल्ली पुलिस के जवान पानी वाले बन रहे, कहीं राशन बांट रहे तो तीमारदार बनकर भी कर रहे लोगों की सेवा

(धर्मेंद्र डागर)कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने के लिए डॉक्टरों, स्वास्थ्यकर्मियों के बाद दिल्ली पुलिस के जवान सबसे अधिक मुस्तैद नजर आ रहे हैं। लॉकडाउन का पालन कराने और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने के लिए दिल्ली पुलिस के जवान पूरी तरह से सेवा में लगे हुए हैं। कभी ये पानी वाले, सब्जी वाले, राशन वाले की भूमिका में नजर आते हैं तो कहीं खाना खिलाने वाले, तो किसी बच्चे या बुजुर्ग का बर्थडे मनाते हैं।

यही नहीं, कहीं-कहीं मरीजों के तीमारदार भी बने हुए हैं। यहां तक की कई बार लॉकडाउन के बीच कई गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी पुलिस वैन में ही करवाई गई है। ये जवान सड़कों के किनारों ताे कभी फुटपाथों पर बैठकर खाना खाते हैं। अपने घर जाने से कतराते हैं। इस दौरान कुछ जवान खुद कोरोना पॉजिटिव भी हो गए हैं, लेकिन इनकी सेवा भाव में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं आई है।

क्वारेंटाइन में रह रहे एसएचओ ने कहा-पुलिस की मेहनत को बेकार ना जानें दें

चांदनी महल के थाना एसएचओ ने कहा है कि कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। वह खुद, उनका ड्राइवर और थाने के अन्य कई सदस्य इस वायरस के संक्रमण की चपेट में हंै। वह खुद और कई पुलिस के जवान क्वारंटाइन में हैं। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे उनकी मेहनत को व्यर्थ ना जाने दें। घर से बाहर तभी निकलें जब बहुत ही ज्याद एमरजेंसी हो। घर में से केवल एक ही व्यक्ति बाहर निकले, वह भी पूरी सुरक्षा के साथ।

बुजुर्ग महिला के घर की लिफ्ट खराब हो गई थी

ग्रेटर कैलाश इलाके की रहने वाली एक बुजुर्ग महिला के घर की लिफ्ट खराब हो गई थी। डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि बुजुर्ग महिला के बेटे विदेश में रहते हैं। विदेश से कॉल करके उन्होंने पुलिस से मदद मांगी थी। फिर पुलिस ने लिफ्ट ठीक करवाई। ग्रेटर कैलाश पार्ट-1 में रहने वाले बुजुर्ग प्रेम भटनागर के दोनों बेटे नोएडा व गुड़गांव में रहते हंै। उनका आर-ओ खराब हो गया था। पुलिस ने बुजुर्ग दंपती की मदद की।

डीसीपी ने कॉल मिलते ही तुरंत पुलिसकर्मी से राशन भेजा

द्वारका सेक्टर-18 में रहने वाली एक महिला ने पुलिस को कॉल कर सूचना दी कि घर में राशन नहीं होने के कारण बच्चे भूखे हैं। डीसीपी एंटो अल्फोंस ने तुरंत ही एक पुलिसकर्मी को भेजकर राशन भेजा। वहीं द्वारका सेक्टर-12 निवासी एक गर्भवती महिला के परिवार को गाड़ी उपलब्ध करवाई।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
With the lockdown being followed, Delhi Police personnel are becoming water loggers, if they are distributing rations, then they are also serving the people by being timed.


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3ctDU2w
via IFTTT

No comments:

Post a Comment