ई-लर्निंग के लिए अब इंटरनेट की जरूरत नहीं, संपर्क बैठक एप से ऑफलाइन कर सकेंगे पढ़ाई - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Friday, April 24, 2020

ई-लर्निंग के लिए अब इंटरनेट की जरूरत नहीं, संपर्क बैठक एप से ऑफलाइन कर सकेंगे पढ़ाई

लॉकडाउन के दौरान जिले के राजकीय प्राथमिक स्कूलों के छात्र अब आसानी से घर बैठे पढ़ाई कर सकेंगे। उन्हें ऑनलाइन पढ़ाई के लिए अब इंटरनेट की जरूरत नहीं पड़ेगी। राज्य सरकार ने इनकी सुविधा के लिए संपर्क बैठक नाम से एक मोबाइल एप्लीकेशन (मोबाइल एप) लांच किया है। इससे ऑफ लाइन भी पढ़ाई की जा सकेगी। इसमें कार्टून व फिल्मी तर्ज पर 500 से अधिक वीडियो अपलोड किए गए हैं। एक बार एप डाउनलोड करने के बाद इसमें अपलोडिड सारे वीडियो को ऑफलाइन भी देखा जा सकेगा। शिक्षा विभाग के अधिकारियों के अनुसार ई-लर्निंग के तहत जिले के 239 राजकीय स्कूलों में कक्षा 1 से 5वीं तक के करीब 72 हजार छात्रों की इस एप से पढ़ाई सरल हो जाएगी। वह खेल-खेल में कैसे अपनी पढ़ाई पूरी करें, इसका इसमें पूरा ध्यान रखा गया है। हिंदी भाषा में गणित विषय की अवधारणाओं को विस्तारपूर्वक समझाया गया है। साथ ही इसमें हिंदी में बहुत सारी कहानी और कविताएं तथा फोनिक प्रैक्टिस दिए गए हैं। इस एप्लीकेशन से बच्चों का अंग्रेजी पढ़ना-लिखना भी आसान हो सकेगा। इसका उपयोग छात्रों के साथ उनके अभिभावक, शिक्षक व शिक्षा विभाग भी करेगा। एप को फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है।
इसलिए सरकार ने एप को किया लाॅन्च
शिक्षा विभाग के अधिकारी के अनुसार कोरोना वायरस के कारण इस समय पूरे देश में लॉकडाउन है। ऐसे में छात्र घर पर अपनी पढ़ाई कर सकें, इसके लिए ई-लर्निंग की सुविधा शुरू की गई है। ऐसे में कई अभिभावकों की शिकायत रहती है कि उनके फोन में इंटरनेट की सुविधा नहीं है। पैसों की दिक्कत आदि के चलते वे इंटरनेट को चलाने में असमर्थ हैं। ऐसे में उनके बच्चे ई-लर्निंग की सुविधा से वंचित हो रहे हैं। अभिभावकों की इसी परेशानी को दूर करते हुए और उनके बच्चों को समुचित सुविधा देन के लिए संपर्क बैठक नाम से एक मोबाइल एप्लीकेशंस को लांच किया गया है।

एप पर भी मिलेंगे जरूरी निर्देश
अधिकारियों के अनुसार संपर्क बैठक एप को शिक्षा विभाग के अधिकारी भी यूज कर सकते हैं। इसमें अधिकारी ई-लर्निंग में सक्रिय शिक्षकों की प्रगति को आसानी से देख सकते हैं तथा उनके एप में अपलोड किए गए वीडियो पर किए जा रहे कार्यों का आकलन कर विवरण प्राप्त कर सकते हैं। अधिकारियों का कहना है कि एप पर निदेशालय की ओर से जारी दिशा-निर्देश भी जारी किए जा सकेंगे। ऑनलाइन शिक्षण-प्रशिक्षण लिया जा सकेगा।
इस एप में यह मिलेगी सुविधा
शिक्षा विभाग के अनुसार अभिभावक इस एप्लीकेशन को मोबाइल में इंस्टॉल कर अपने बच्चों के साथ बैठकर उन्हें पाठ्यक्रम से संबंधित वीडियो आसानी से दिखा सकते हैं। एप्लीकेशन में दिए गए वर्क डिटेल की सहायता से बच्चों का अभ्यास भी करा सकते हैं। इसमें वह खुद बच्चों की प्रगति का आकलन भी कर सकते हैं। एप्लीकेशन में 500 तरह के वीडियो अपलोड किए गए हैं। साथ ही हिंदी भाषा में गणित की अवधारणाओं को भी विस्तारपूर्वक समझाया गया है। इसके माध्यम से बच्चे हिंदी के साथ अंग्रेजी भाषा का ज्ञान भी आसानी से ले सकते हैं। दोनों भाषाओं में कई कविताओं को भी इसमें शामिल किया गया है। इससे पढ़ाई मनोरंजक होगी।

यह एप शिक्षकों के लिए भी फायदेमंद है
अधिकारियों के अनुसार संपर्क बैठक एप शिक्षकों के लिए काफी फायदेमंद साबित होगा। शिक्षक भी इसका उपयोग कर सकते हैं। शिक्षक एप्लीकेशन के माध्यम से अपने विद्यालय में होने वाले काम को दूसरे शिक्षकों के साथ सांझा कर सकते हैं और उस पर सुझाव भी ले सकते हैं। अधिकारियों के अनुसार संपर्क बैठक मोबाइल एप्लीकेशन का प्लेटफार्म फेसबुक की तरह दिखने वाला प्लेटफॉर्म है, इस पर शिक्षकों को कमेंट करने, लाइक करने, पोस्ट डालने आदि के अंक दिए जाएंगे और उन्हें इसमें प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा, जिससे उनका उत्साह बढ़े।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Internet is no longer needed for e-learning, contacts will be able to study offline from the meeting app


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3awyFxz
via IFTTT

No comments:

Post a Comment