प्रॉपर्टी बंटवारे से खफा बेटा-बहू ने बुजुर्ग दंपती की चाकू-पेचकस घोंपकर की हत्या - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Friday, April 24, 2020

प्रॉपर्टी बंटवारे से खफा बेटा-बहू ने बुजुर्ग दंपती की चाकू-पेचकस घोंपकर की हत्या

कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते दिल्ली समेत देश भर में लॉकडाउन लागू है। इसकी वजह से परिवार में आपसी कलह की घटनाएं भी सामने आई हैं। लेकिन लॉकडाउन में डबल मर्डर का यह पहला मामला सामने आया है। द्वारका जिले के छावला इलाके में एक बुजुर्ग दंपती की चाकू और पेचकस से गोदकर हत्या कर दी गई। इसका खुलासा तब हुआ जब मृतक की बेटी मिलने के लिए दंपती के घर आई थी। मृतकों की पहचान राज सिंह (61) और उसकी पत्नी ओमवती (58) के रूप हुई है। पुलिस ने दावा किया कि यह हत्या प्रॉपर्टी विवाद का ही परिणाम है। पुलिस ने बेटे सतीश और बहू कविता को िहरासत में ले लिया है। इनमें कविता ने पकड़े जाने के बाद खुदकुशी की कोशिश की थी, जिसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने हत्या समेत अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। शुरूआत में दोनों ने आनाकानी की लेकिन बात में हत्या की बात स्वीकार ली।
पीसीआर को सुबह 11.15 बजे बुजुर्ग की हत्या की सूचना मिली
डीसीपी अंटो अल्फोंस ने बताया कि छावला पुलिस शुक्रवार सुबह 11.15 बजे पीसीआर कॉल मिली थी। जिसमें पुलिस को दुर्गा विहार स्थित घर में बुजुर्ग दंपती की लाश मिलने की सूचना मिली थी। मौके पर जब पुलिस पहुंची तो उन्हें एक कमरे के बिस्तर पर राज सिंह और ओमवती की खून से लथपथ हालत में लाश मिली। दोनों के चेहरे पर तेज धारदार व नुकीले हथियार से वार किए जाने के निशान थे, जाे संभवत: चाकू और पेचकस से किए गए होंगे। फिलहाल पुलिस ने शवों को राव तुलाराम अस्पताल की मोर्चरी में रखवा दिया गया है।

फोन नहीं उठा रहे थे दंपती, परेशान बेटी सुबह पहुंची घर

रिश्तेदाराें का कहना है कि पिछले 24 घंटे से राज सिंह और ओमवती को फोन पर कई कॉल किए थे लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। इस पर उनकी बेटी खुद करीब 11 बजे उनके घर पहुंच गई। बेटी ने दरवाजा खटखटाया तो नहीं खुला। फिर जोर से धक्का देने पर दरवाजा खुला। दरवाजा खुलते ही देखा खून से लथपथ हालत में दोनों की लाश पड़ी हुई थी और उनके शरीर पर चाकुओं के निशान थे। उसने तुरंत ही इसकी जानकारी पड़ोसियों को दी और पुलिस को बुलाया।
पूछताछ: बेटा-बहू के बयान में था अंतर
पुलिस ने मृतक के बेटा बहू से पूछताछ की तो उन्होंने इसकी भनक तक न लगने की बात कही। पुलिस तत्काल दोनों को संदेह के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। साथ ही मौके पर पहुंची क्राइम टीम और फॉरेंसिक की टीम ने भी घटनास्थल की जांच कर सुराग जुटाए हैं, जिसकी जांच की जा रही है। पुलिस पड़ोसियों से भी पूछताछ कर रही है, जिससे बेटा-बहू के बयानों की सत्यता की जांच की जा सके।

संदेह: नशीला पदार्थ खिलाकर की गई हत्या
हत्या के समय दंपती का बेटा सतीश और उसकी पत्नी कविता अौर उनके दो बच्चे भी घर में ही मौजूद थे। पुलिस को इस मामले में बहू कविता की संलिप्तता नजर आ रही है। जिससे पुलिस को संदेह लग रहा है कि हो सकता है कि दंपती को पहले नशीली चीजें खिलाई और फिर हत्या की गई। वहीं पुलिस मामले में घर की बहू और बेटे से लेकर तमाम पहलुओं की जांच कर रही है।

खुलासा: बेटियों को हिस्सा देने से बेटा-बहू थे नाराज

पुलिस ने शुरुआती जांच के बाद आशंका जताई कि मामला प्रॉपर्टी तथा घरेलू हिंसा से जुड़ा हो सकता है। मृतक राज सिंह एमसीडी से रिटायर थे। सतीश और कविता के दो छोटे बच्चे हैं। पुलिस की पूछताछ में सतीश और कविता ने आरोपों से इनकार किया लेकिन पुलिस का कहना है कि दोनों घर पर ही थे। इन दोनों ने परस्पर विरोधी बयान दिया। बाद में पूछताछ के दौरान दोनों ने हत्या का आरोप स्वीकार कर लिया। उसने बताया कि उसके माता.-पिता प्रॉपर्टी का एक बड़ा हिस्सा दोनों बेटियों को देना चाहते थे जिससे वह खफा थे। अस्पताल में भर्ती कविता के हालत स्थिर बताई जाती है। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। दरअसल विवाद की शुरुआत बुजुर्ग के फैसले के बाद से हुई। संपत्ति में बेटियों को हिस्सा देने के फैसले के बाद से ही परिवार में मतभेद चल रहा था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Angry son-daughter-in-law killed property couple by stabbing knife and screws


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/354SStx
via IFTTT

No comments:

Post a Comment