जिले के 55802 श्रमिक बाहरी राज्यों में फंसे, सिवाना के सबसे ज्यादा 12519 मजदूर - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Monday, April 27, 2020

जिले के 55802 श्रमिक बाहरी राज्यों में फंसे, सिवाना के सबसे ज्यादा 12519 मजदूर

कोरोना वैश्विक महामारी को लेकर 22 मार्च से ही देशभर में शुरू हुई सख्ती के बाद अलग-अलग राज्यों में काम पर गए श्रमिक वहीं फंस गए। 24 मार्च को देशव्यापी लॉकडाउन के बाद इनके वहां से निकलने की संभावनाएं थम सी गई। ट्रेन, बस सभी यातायात बंद होने से करीब 35 दिनों से ये श्रमिक काम धंधे बंद होने के बावजूद कई राज्यों में फंसे हुए है। इनके सामने खाने-पानी के इंतजाम सहित कई परेशानियां खड़ी हो गई। लगातार श्रमिकों को निकालने की मांग उठ रही है। इस बीच राज्य सरकार ने इन श्रमिकों को निकालने के लिए कवायद शुरू की है।

अलग-अलग राज्यों की सरकार से बातचीत करने के साथ ही फंसे श्रमिकों का ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन भी शुरू हो गया है। ऐसे अब सरकारों के साथ बातचीत कर समन्वय इस बात को लेकर स्थापित किया जा रहा है कि कब और कैसे इन श्रमिकों को पहुंचाया जाएगा। बाड़मेर में अब तक 55802 श्रमिकों का रजिस्ट्रेशन हो चुका है, जो अलग-अलग राज्यों में फंसे हुए है। सिवाना में सबसे ज्यादा 12519 और रामसर में सबसे कम 1077 श्रमिक बाहरी राज्यों में फंसे है।

घर पहुंचने से पहले प्रवासियों को गांव की निगरानी समिति को देनी होगी सूचना
बाहरी राज्यों से प्रवासी मजदूराें को बाड़मेर लाने की कवायद शुरू हो गई। इसके साथ ही अब बाहरी राज्यों व जिलों से पहुंचने वाले श्रमिकों को घर पहुंचने के बाद गांव की निगरानी समिति को सूचना देनी होगी। अगर कोई श्रमिक बिना सूचना के घर पर पहुंचता है तो उसके खिलाफ कार्यवाही होगी। वहीं निगरानी समिति की ओर से उनकी लगातार मॉनिटरिंग व जांच कर 14 दिन के लिए होम क्वारेंटाइन करेगी।

कलेक्टर-एसपी ने गांधव चेकपोस्ट का दौरा किया, जांच के बाद एंट्री के निर्देश
कलेक्टर विश्राम मीणा, एसपी आनंद शर्मा ने सोमवार शाम 5 बजे गांधव चेक पोस्ट का निरीक्षण किया। इस दौरान धोरीमन्ना, गुड़ामालानी एसडीएम, विकास अधिकारी, पुलिस, चिकित्सा टीमों के साथ चर्चा की। आगामी कुछ दिनों में गुजरात से लाए जाने वाले प्रवासी श्रमिकों की जांच-पड़ताल, सोशल डिस्टेसिंग, मास्क अनिवार्यता और छाया-पानी की व्यवस्था को लेकर समीक्षा की। इसके बाद आवश्यक निर्देश देते हुए गांधव चेकपोस्ट पर टीमों को बढ़ाया गया है।

किस पंचायत समिति के कितने श्रमिक है फंसे

पंस श्रमिक संख्या
चौहटन 1356
सिवाना 12519
शिव 2631
बालोतरा 7773
बायतु 1772
बाड़मेर 3435
धोरीमन्ना 1144
सिणधरी 3974
सेड़वा 1726
धनाऊ 1202
गुड़ामालानी 3359
रामसर 1097
गिड़ा 2216
गडरारोड 1184
समदड़ी 2238
पाटौदी 1670
कल्याणपुर 6506
कुल

55802



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3cWoBzQ
via IFTTT

No comments:

Post a Comment