नजफगढ़ में 12वीं कक्षा के 10 दोस्त चला रहे हैं कम्यूनिटी किचन, रोजाना 250 से अधिक लोगों को खिला रहे खाना - Latest news

Breaking

top ten news in hindi hindi mein news flash news in hindi aaj ka news hindi newsbihar

Breaking News

Wednesday, April 22, 2020

नजफगढ़ में 12वीं कक्षा के 10 दोस्त चला रहे हैं कम्यूनिटी किचन, रोजाना 250 से अधिक लोगों को खिला रहे खाना

लॉकडाउन में सब काम बंद है और रोजाना कमाने खाने वाले परेशान हैं। इनकी दिक्कत को दूर करने के लिए बड़ी संख्या में लोग सामने आ रहे हैं। इसमें युवा से लेकर बच्चे तक सक्रिय है और बढ़चढ़कर लोगों की मदद भी कर रहे हैं। ऐसे ही नजफगढ़ में दीपक विहार एक्सटेंशन के 10 दोस्त है। सभी ने अभी 12वीं की परीक्षा दी है। यह जरूरतमंदों को खाना खिलाने से लेकर उनको सरकार की योजनाओं की जानकारी से जागरूक भी कर रहे हंै। इस ग्रुप से जुड़े रौनक रंजन ने बताया कि हम सभी 10 दोस्तों ने विचार किया कि लोग काम बंद होने के बाद कैसे खाना खाएंगे। ऐसे में अपनी क्षमता के अनुसार लोगों को भूखा ना सोने देने के लिए ‘एक पहल’ नाम से यह छोटी सी शुरुआत की।

रौनक ने बताया कि उनको लोगों को खाना के पैकेट बांटते 9 दिन हो गए। अब तक 1790 लोगों को खाना खिला चुके है। वह जय विहार के स्लम एरिया, लाल स्टेडियम के सामने के इलाके में लोगों को खाना खिलाते हैं। खाने में खिचड़ी, हलवा के अलावा ड्राय फूड (आटा, चावल) भी देते हैं। 10 दोस्तों में रौनक रंजन, अभिषेक चौधरी, अंकित चौधरी, कुनाल ठाकुर, दीपांशु ठाकुर, अमन चौधरी, कुमार गौरव, अमन ठाकुर, कर्तव्य गुप्ता, पर्थ सिंह शामिल हैं।

शुरुआत में आई दिक्कत
अरविंद चौधरी ने बताया कि यह आइडिया रौनक ने शेयर किया और इसके बाद एक एक करके हम 9 दोस्त इसको आगे बढ़ाने में जुट गए। शुरुआत में परिवार की तरफ से ही घर से निकलने में सभी को मना किया गया, लेकिन बाद में हमारे प्रयास को उनको समर्थन देकर सुरक्षा के साथ लोगों की मदद करने की अनुमति दे दी। हमने जरूरतमंद लोगों तक खाना पहुंचाने के लिए कर्फ्यू पास बना रखा है। हम सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर सभी प्रकार की जरूरी सावधानियों का पालन करते हैं।

अपनी पॉकेट मनी जोड़कर बनाई खिचड़ी
दीपांशु चौधरी ने बताया कि शुरुआत में हमने अपने पॉकेट जोड़कर करीब 3 से 4 हजार रुपए जुटाए और खिचड़ी बनाई। फिर परिवार से पैसे लेकर आगे बढ़े। इसके बाद लोगों को जोड़ने के लिए सोशल मीडिया पर ‘एक पहल’ फेसबुक अकाउंट बनाया। साथ ही फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म से लोगों को बताया। इसके बाद हमें राशन, पैसे और सामान भी कई लोगो की तरफ से मिलने लगा।

हम जागरूक ही कर दें तो कोई भूखा नहीं सोएगा
हम लोगों को सरकारी योजनाओं के प्रति जागरूक करने का भी काम कर रहे हैं। साथ ही लोगों को सरकारी फूड शेल्टर के बारे में भी जानकारी उपलब्ध करा रहे हंै। - रौनक रंजन, स्टूडेंट्स



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
10 friends of class 12th are running community kitchens in Najafgarh, feeding food to more than 250 people daily


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3apXLOI
via IFTTT

No comments:

Post a Comment